Backlink kya hai || Backlink क्या होता है || Backlink से क्या क्या होता है। 2022 में Best Backlink kaise बनाये?

आप लोग एक ब्लॉगर हो तो आप लोग को पता होगा Backlink kya hai? आप लोगों को इस तरह का क्वेश्चन बहुत ही ज्यादा दिमाग परेशान करता होगा तो आप लोग आज जानोगे कि Backlink kya hai और काम कैसे करता है।

अगर आपके पास वेबसाइट या ब्लॉग है तो आप लोगों ने बैकलिंक्स के बारे में बहुत ही ज्यादा सुना होगा और आपके मन में कहीं ना कहीं एक बार यह सवाल जरूर आया होगा कि Backlink kya hai.

आपको पता है कि बैकलिंक कितना जरूरी है , जब आप SEO सिख रहे होते तो या किसी वेबसाइट की SEO कर रहे होते तब आप लोग को किसी भी वेबसाइट को rank कराने में बैकलिंक्स का बहुत ही ज्यादा महत्व होता है।

बहुत सारे इस तरह के ब्लॉग या वेबसाइट रैंक नहीं हो पाता है क्योंकि वह सही से SEO और backlinks नहीं बना पाता है। मैं आप लोगों को बताता हूं आप लोग 100% SEO कर भी लेते हो और उसके बाद backlinks नहीं बनाते हो तो आपका आर्टिकल रैंक नहीं कर पाएगा। इसी कारण से आप लोग वेबसाइट से हार मान लेते हो और आगे काम करने का मन नहीं करता है।

आप लोग कभी कभी गलत तरीके से बैकलिंक्स बनाने का कोशिश करते हो और जब आपका वेबसाइट पर बैकलिंक्स बन जाता है तब गूगल आपकी वेबसाइट को penalized कर देता है। इसका मतलब आप की वेबसाइट सर्च रिजल्ट में कभी भी नहीं तो करेगा।

जितने सारे नए ब्लॉगर को बैटरी उसके बारे में थोड़ा सा भी नॉलेज है लेकिन वह थोड़ा सा नॉलेज आपकी वेबसाइट को गूगल से हमेशा के लिए गायब कर सकता है और आप लोग एक गलती करते हो तो आपकी वेबसाइट लाइफ टाइम के लिए penalized हो सकता है।

आप लोग के पास ब्लॉग या वेबसाइट ओनर हो तो आप लोग को backlinks के बारे में पूरी जानकारी होना बहुत ही जरूरी होता है।

आप लोग इस आर्टिकल को पूरा पढ़ लेते हो तो आपको backlinks की पूरी जानकारी मिलेगी। आपके लिए एक महत्वपूर्ण आर्टिकल हो सकता है इसलिए आप लोग एक बार पूरा पढ़ लो।

जब किसी एक वेबसाइट को दूसरे वेबसाइट से लिंक कर दिया जाता है तो उसे बैकलिंक्स कहते हैं। आप लोग आसान भाषा में समझो अगर आप अपनी वेबसाइट से मेरी वेबसाइट को लिंक करते हो तो उस लिंक को मेरा वेबसाइट का बैक लिंग कहा जाएगा क्योंकि जब कोई वजह उस आर्टिकल को पड़ता है और उसके नीचे में जो लिंक आपका देगा उस लिंक पर क्लिक करेगा तो आपके पोस्ट पर भी आएगा।

आप लोग इसे एक उदाहरण से समझें

कोई भी वायरल पोस्ट हो और उस पोस्ट के अंदर आपका लिंक दे दिया जाएगा तो उसे बैकलिंक्स कहते हैं।

बैकलिंक्स एक वेबसाइट के लिए बहुत ही ज्यादा जरूरी चीज होता है आपको जितना ज्यादा वेबसाइट पर backlinks मिलेगा उतना ही ज्यादा आपका seo मजबूत होगा और इसी से वेबसाइट सर्च इंजन में rank करने लगती है।

जब कोई वेबसाइट का वेब पेज किसी अन्य वेबसाइट का वेब पेज से जुड़ा हुआ रहता है तब उसे बैकलिंक्स कहा जाता है आप लोग इसे आसान भाषा में समझो कि बैकलिंक्स एक वेबसाइट से दूसरे वेबसाइट में जाने का रास्ता होता है।

SEO मैं बैकलिंक्स बहुत बड़ी निर्णायक भूमिका निभा सकती है , बैकलिंक्स Off page SEO की सबसे बड़ी महत्वपूर्ण चीज होती है।

बैकलिंक्स क्या है? उम्मीद है कि आप लोगों को यह सवाल का जवाब मिल गया होगा।

अभी तक आप लोगों ने सीखा Backlink kya hai लेकिन वैक्लीन के बारे में और भी बहुत सारी जानकारियां है जो कि आप लोग नीचे पढ़ोगे ।

बैकलिंक दो प्रकार का होता है: 1. NoFollow backlinks और 2. DoFollow Backlinks

अब आप लोग यह दोनों में कंफ्यूज नहीं होना है कि NoFollow backlinks क्या है और DoFollow Backlinks क्या है।

यह दोनों में कांसेप्ट बहुत ही सिंपल है अब हम लोग इन्हें आसान तरीके से समझते हैं।

NoFollow link एक ऐसी लिंक होती है जो कि कोई भी वैल्यू पास नहीं हो पाता है जैसे कि इसका मतलब होता है एक वेबसाइट से दूसरे वेबसाइट पर नहीं जा सकते हो।

किसी भी लिंक में NoFollow टैग सर्च इंजन को दर्शाता है और इस लिंक को इग्नोर किया जाता है जब कोई भी वेबसाइट पर सर्च इंजन में NoFollow tag वाली लिंक को crawl करता है तब उन्हें हम लोग नजरअंदाज कर देते हैं।

NoFollow link कभी भी नहीं सर्च इंजन रैंक कराने में काम करती है।

अब आप लोग सोचते होंगे कि इसका मतलब बिल्कुल कुछ भी नहीं होता है तो मैं आप लोगों को बताता हूं NoFollow links कुछ काम का नहीं होती है।

NoFollow links रैंकिंग में कोई भी फर्क नहीं पड़ता है लेकिन DoFollow links के साथ NoFollow links देना बहुत ही जरूरी है तभी आपकी वेबसाइट की हेल्प सही रखने में मदद कर सकती है।

Domen authority ( DA ) , Page Authority ( PA ) स्थिर रखने के लिए कोई भी वेबसाइट में DoFollow links के साथ-साथ NoFollow backlinks बहुत ही जरूरी है।

DoFollow Backlink ऐसी लिंक्स होती है जो कि सब कोई चाहता है।

आपको पता होगा कि यह लिंक सभी कोई चाहता है क्योंकि यह लिंक बहुत ही काम की होती है और सर्च इंजन में रैंकिंग बढ़ाने के लिए काफी जरूरी होती है।

जब भी किसी सर्च इंजन के रोबोट वेबसाइट का crawl करता है तब DoFollow links को index करने का अनुमति दी जाती है

यह लिंक एक वेबसाइट से दूसरे वेबसाइट में जाने का योग होता है और गूगल में ऐसी लिंक को DoFollow tag के साथ crawl करता है। जिसकी वजह से आपका वेबसाइट की रैंक सर्च इंजन में बढ़ती है।

NoFollow links के मुकाबले DoFollow links आपकी वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ने में उपयोग होती है।

DoFollow Backlinks हमेशा सही मात्रा में और हाई क्वालिटी वेबसाइट से लेनी चाहिए।

क्योंकि आप लोग को पता होगा जितनी तेजी से यह लिंक आपकी सर्च इंजन में रैंकिंग बढ़ाती है उतनी ही तेजी से आपका वेबसाइट की रैंकिंग कम भी कर सकती है।

Bad और spam backlinks आपकी वेबसाइट की रैंकिंग कम कर सकती है और इससे आपका वेबसाइट का सर्च इंजन से आपके वेबसाइट में penalize कर सकती है।

30 New YouTube Channel Topic Ideas In Hindi

What is an Instant Loan and How to Get One?

किसी भी वेबसाइट का सर्च इंजन एल्गोरिथ्म seo में बैकलिंक्स का बहुत बड़ा रोल प्ले करता है।

आप लोग बैकलिंक को समझाना और यह कैसे काम करती है समझाना आप लोग के लिए बहुत ही आसान है चलिए इसे हम लोग एक उदाहरण में समझते हैं।

आप लोग मान लीजिए कि कोई राज नाम का एक नया ब्लॉगर है और उसने एक हेल्थ इंश्योरेंस पर एक आर्टिकल उसके वेबसाइट पर लिखा है।

आप लोग दूसरी तरफ मान लीजिए अमन नाम का एक ब्लॉगर है जिसका ब्लॉक बहुत ही ज्यादा पुराना है और सर्च इंजन में अच्छी तरह से रैंक भी कर रहा है और इसकी ऑथोरिटी भी सर्च इंजन में राज के ब्लॉक से ज्यादा है।

और ऐसे में राहुल अपने ब्लॉग पर आर्टिकल लिखते हैं उस समय इसी की वर्ड पर राज के आर्टिकल का लिंक कर देता है तो वह backlinks मानी जाएगी।

राज के आर्टिकल को जब backlinks मिल जाएगी तब वह एक हाई अथॉरिटी ब्लॉक से मिली है इसलिए राज का ब्लॉग सर्च इंजन में रंग करना स्टार्ट हो जाएगा और गूगल भी उसके साइट को रेंट करने का कोशिश करेगा क्योंकि वह एक high authority blog से linked है।

इसी तरह से जितना ज्यादा है और छोटी वाली वेबसाइट से आपका वेबसाइट लिंक होगा उतना ही ज्यादा आपका वेबसाइट का अथॉरिटी बढ़ेगी।

और इसी तरह जितना ज्यादा आपका वेबसाइट का बैकलिंक मिलेगा उतना ही आपका वेबसाइट की seo स्ट्रांग होती जाएगी. और सर्च इंजन में हमेशा आपकी वेबसाइट टॉप पर दिखेगी.

आप लोग के मन में और एक सवाल आता होगा कि बैकलिंक्स कैसे बनाते हैं? तो आप लोग यह भी सीख लो बैकलिंक कैसे बनाते हैं।

वेबसाइट के लिए आप लोग बैकलिंक बनाते हो तो आप लोग का समय और मेहनत दोनों लगेगा क्योंकि इसमें कोई शार्ट चीज नहीं है जो कि आप आसानी से बना सकते हो।

जितने सारे नए ब्लॉगर होते हैं उनको अक्सर इस बात को पता नहीं रहता है कि बैकलिंक्स कैसे बनाएं और क्वालिटी बैकलिंक्स कैसे बनाया जाता है।

जितने सारे नए ब्लॉगर रहते हैं वह सब spem वेबसाइट से बैकलिंक्स से बना लेते हैं जिनके कारण से उनकी वेबसाइट की सर्च इंजन में कहीं पर देखी नहीं जाती है।

आप लोग को आज मैं कुछ टिप्स बताऊंगा जिन्हें आप फॉलो करोगे तो जिसके कारण से आप हाई क्वालिटी बैकलिंक्स बना सकते हो।

Social media profiles : आपको अपने वेबसाइट के लिए अलग-अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम, टि्वटर पर सबमिट कर सकते हो यहां से आपको डायरेक्ट DoFollow लिंक मिलता है। और इन वेबसाइट की अथॉरिटी बहुत ही ज्यादा होती है जिसके कारण से आपका वेबसाइट पर सेंड करने में सहायता देगी। इनका डोमिन अथॉरिटी 90 से ज्यादा होती है अगर आप लोग यहां से वैक्लीन बना लेते हो इसके चलते आपको वेबसाइट पर काफी ज्यादा फायदा होगा।

Guest post : अगर आप लोग किसी दूसरे वेबसाइट से अपने वेबसाइट के लिए DoFollow बैकलिंक बनाना चाहते हो। तो यह सबसे अच्छा तरीका हो सकता है। किसी भी वेबसाइट ओनर से आप कांटेक्ट कर लेना है फिर आप उससे बात कर लेना है करने के बाद फ्री में गेस्ट पोस्ट लिखने के ऑफर उनको दे सकते हो और जिसके बदले में आपको उस वेबसाइट से एक या दो DoFollow Backlinks ले सकते हो।

Comments : आप लोग कमेंट करके बैकलिंक्स बना सकते हो इसमें आप लोगों करना क्या पड़ता है कि दूसरे पोस्ट पर जाकर आपको कुछ भी कमेंट करना है तो आपको वहां से भी बैकलिंक्स बना सकते हो हालांकि या noFollow बैकलिंक्स की श्रेणी में आता है लेकिन यह लिंक बनाना इतना जरूरी नहीं होता है। लेकिन noFollow backlinks भी आपके वेबसाइट के लिए फायदेमंद हो सकता है इसलिए आपको या लिंक्स भी जरूरी बनानी चाहिए।

Profile websites : आप लोग देखते हो बहुत सारी इस तरह वेबसाइट आपके सामने होती है जहां पर आप लोग अकाउंट बनाते हो और आप उसमें अपना इंफॉर्मेशन लिख सकते हो और उसी में आप लोग अपना वेबसाइट का यूआरएल सबमिट कर सकते हो वहां से आप DoFollow बैकलिंक्स ले सकते हो।

Internal backlinks : जब आप लोग कोई भी आर्टिकल लिखते हो तो उसमें आप लोग अपने वेबसाइट के अंदर आने आर्टिकल और वेब पेज को उसमें जरूर लिंक करें और दूसरे भी आने हाई क्वालिटी वेबसाइट के पेज को भी अपने आर्टिकल में जरूर लिंक करें इंटरनल बैकलिंक्स से भी आपके वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ती है।

जब आप लोग बैकलिंक्स बना लेते हो तब आपका आर्टिकल रैंक होने का संभव हो सकता है और बैकलिंक्स बनाने का और भी तरीका हो सकता है यह लेकिन यह सब सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है आप इस तरह से अपना बैकलिंक्स को बना सकते हो। अगर आपके पास समय है तो आप लोग हाई क्वालिटी बैकलिंक्स अपने वेबसाइट के लिए बनाना चाहते हो तो आप लोग गेस्ट पोस्ट का तरीका सबसे अच्छा है आप लोग वहां से बिल्कुल सही में और इलीगल तरीके से अपना बैकलिंक्स बना सकते हो।

निष्कर्ष

दोस्तों आज आप लोगों ने सीखा की Backlink kya hai और बैकलिंक कैसे बनाते हैं उम्मीद करता हूं आप लोग को या पोस्ट अच्छा लगा होगा।

आप लोगों ने आज और मेरे वेबसाइट पर और एक चीज सीखे की Backlink kya hai और बैकलिंक कैसे बनाते हैं और आप लोग इसी तरह daily कुछ नया नया सीखना चाहते हो तो आप लोग मेरा पेज को फॉलो कर सकते हो आपको यहां पर daily एक न्यू न्यू पोस्ट देखने को मिलेगा। आप लोग को हिंदी भाषा में सारे के सारे आर्टिकल देखने को मिलेगा और आप लोग जब पढ़ते हो तो आप लोग को बहुत ही आसान भाषा में देखने को मिलेगा।

अगर आप लोगों को कहीं पर भी कुछ समस्या हुई होगी तो आप लोग एक कमेंट करके बताना है मैं उस कमेंट का रिप्लाई दूंगा और आपका समस्या का हल करूंगा और आप लोग को यह पोस्ट अच्छा लगा होगा तो एक छोटा सा कमेंट करके बताना है कि के साथ था मैं उसका भी रिप्लाई दूंगा। उम्मीद करता हूं आप लोग को या पोस्ट अच्छा लगा होगा और आप सभी को मेरे तरफ से प्रणाम आप लोगों ने यहां तक पढ़ा।

test

FREE
VIEW